August 2, 2020

Dhara 370 and 35A kya hai | जम्मू-कश्मीर वासी के क्या अधिकारे हैं?

dhara 370 and 35a kya hai

Dhara 370 and 35A kya hai, इसके क्या वह वजय हैं, जिससे यह नाम हमे बार बार सुनने को मिल रहे हैं. इसके बारे में कई सारे लोगो में भ्रम की स्थिति पैदा हो रहे हैं. इसे समझने के लिए कोई ठीक से माध्यम ना होने के कारन. इसीलिए आज हम इस लेख के द्वारा जानेंगे की Article व  Dhara 370 and 35A kya hai और इसके विशेषताये क्या हैं.

Dhara 370 and 35A kya hai?

पहले आये जानते हैं jammu kashmir article 370 के बारे में. आपने आर्टिकल 370 के बारे में काफी कुछ सुना होगा. यह जम्मू-कश्मीर में लागू है और इसके तहत जम्मू-कश्मीर वासियों को काफी कुछ विशेष अधिकार दिए गए हैं.

Article 370 क्या हैं?

आर्टिकल 370 भारत संविधान का एक अनुच्छेद है. जिसके द्वारा जम्मू और कश्मीर राज्य को संपूर्ण भारत में दूसरे राज्यों के मुकाबले विशेषाधिकार या विशेष दर्जा प्राप्त है. कई राष्ट्रवादी दल इसे जम्मू और कश्मीर में व्याप्त अलगाववाद के लिए जिम्मेदार मानते हैं, और इसे समाप्त करने की मांग करते रहते हैं.

Article 370 जवाहरलाल नेहरू के सन्मति से तैयार किया गया था. स्वतंत्र भारत के लिए यह जम्मू-कश्मीर का मामला आज तक एक समस्या बना हुआ है.

Article 370 का विशेषता क्या हैं?

  • जम्मू कश्मीर में कोई अन्य राज्य के लोग भूमि नही खरीद सकता.
  • जम्मू-कश्मीर का राष्ट्र झंडा अलग होता है.
  • 6 साल की विधान सभा कार्यकाल होती है.
  • जम्मू-कश्मीर में भारतीय उच्चतम न्यायालय का आदेश लागू नहीं होते हैं.
  • अगर कोई महिला भारत के व्यक्ति से शादी करती हैं तो उस महिला का नागरिकता ख़त्म हो जाती हैं. साथ ही पाकिस्तानी व्यक्ति से विवाह करने के पश्यात कश्मीरी महिला की नागरिकता भी बनी रहती हैं और अपने पति को जम्मू कश्मीर में नागरिकता मिल जाती हैं.
  • जम्मू-कश्मीर में पंचायत व्यवस्था नही हैं.
  • जम्मू-कश्मीर में रहने वाले जो पाकिस्तानियों अपनी बीवी के साथ जम्मू-कश्मीर में रहती हैं, उनको भी भारतीय नागरिकता मिल जाती है.

अब बात करते हैं आर्टिकल 370 के संबंध में कुछ विशेष बाते-

आर्टिकल 370 के शीर्षक के शब्द है जम्मू-कश्मीर के संबंध में अस्थाई प्रावधान. आर्टिकल 370 के अनुसार जो प्रावधान है, उसमें समय-समय पर परिवर्तन किया गया है. जिन की शुरुआत 1954 से हुई थी.

Article 35A kya hai in Hindi?

Article 35A जम्मू-कश्मीर की नागरिकता से जुड़ी एक अनुच्छेद है. जो article 370 के अंदर बनाया गया है. आर्टिकल 35A  भारतीय संविधान के अंतर्गत एक प्रावधान है. जो जम्मू-कश्मीर विधान मंडल यानी विधायक को यह अधिकार प्रदान करता है. कि वही तय करेगी जम्मू और कश्मीर का स्थाई निवासी कौन है, किसे जमीन खरीदने की आदिकर हैं, किसे राज्य का सार्वजनिक सहायता मिलेगी, किसे नौकरिया मिलेगी, कौन चुनाव में वोट डालने का पात्र होगा, आदि. यह सब आर्टिकल 35A में यह निति विधान के बारे में बताया गया है.

dhara 370 and 35a kya hai
Jammu & Kashmir flag

अगर राज्य सरकार किसी कानून को अपने हिसाब बदलती है तो मान्य हैं उसके खिलाफ भारत सरकार कोई कोर्ट की कारवाई नही कर सकती. जम्मू-कश्मीर राज्य को एक विशेष क्षमता प्रदान करता है. इसके जरिये दिए गए अधिकार स्थाई निवासियों से जुड़े हुए हैं.

Article 35A भारतीय संबिधान में कब जोड़ा?

यह Article 35A जम्मू कश्मीर के पहले डोगरा शासक गुलाब सिंह और ईस्ट इंडिया कंपनी के बीच 171 साल पहले हुए एक संधि का परिणाम है. भारत के राष्ट्रपति डॉ राजेंद्र प्रसाद ने 14 मई 1954 को एक आदेश जारी किया. इसके बाद से भारत के संविधान में एक नया अनुच्छेद 35A का जन्म हुआ.

Article 35A संसद के जरिये लागु नहीं किया गया है. कानून बनाने का जो एक प्रक्रिया होता है. कि पहले से संसद में पेश किया जाता है, उसके बाद राष्ट्रपति के हस्ताक्षर से वह कानून बनता है. पर ऐसा यहां पर नहीं हुआ था. असल में संसद में इसे पेश ही नहीं किया गया था. प्रतक्ष रूप में राष्ट्रपति ने इस पर हस्ताक्षर की और यह कानून बन गया.

Article 35A का विशेषता क्या हैं?

  • इस article के मुताबिक अन्य राज्य के कोई भी लोग जम्मू-कश्मीर में जमीन नही खरीद सकता.
  • भारत का कोई अन्य राज्य का नागरिक जम्मू कश्मीर का स्थाई निवासी नहीं बन सकता. इसीलिए वोट नही दे सकती.
  • जम्मू-कश्मीर के कोई महिला की अगर शादी किसी अन्य राज्य के आदमी से हो जाये तो तुरंत उसकी और आनेवाले बच्चो की अधिकार और नागरिकता ख़त्म हो जाती हैं.
  • Article 35A के लागु होने से भारतीय लोग जो जम्मू कश्मीर में रहता हैं उनको वहा पे स्थाई नागरिकता नही दिया जायेगा.

Article 35A में जो प्रावधान दिए गए हैं, उन्हें देख कर ऐसा लगता है की जैसे भारत के अंदर एक और छोटा सा देश है. जिसमे अपना संविधान हैं, अपना झंडा हैं, अपना कानून हैं.


Conclusion: आज हमने जाना dhara 370 and 35A kya hai, Article 35A kya hai in hindi. अगर आपके मन में कोई सवाल हैं तो comment करके जरुर बताये. और अपने दोस्तों के साथ, social media पे जरुर share करे. धन्यवाद.

Shreshtha

The more that you read, the more things you will know (जितना अधिक आप पढ़ेंगे, उतनी ही अधिक चीजें आपको पता चलेंगी) | इसीलिए पढ़ते रहें, धन्यवाद।

View all posts by Shreshtha →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *